Shiva Jayanti Celebrations at Sonipat Retreat Center

Centers of Punjab Zone and 84th Trimurti Shiva  Jaynti was celebrated at Sonipat Retreat Center on March1, 2020. A large number of  senior  and junior BK Teachers and senior brothers of various centers and sub centers of Punjab Zone attended this meeting. In this meeting service plans for 2020 were discussed and special attention this time would be on giving the godly message to all and organising silence retreat at various places finalised. 
 
After the meeting 84th Trimurti shiva Jayanti was celebrated with divine love and affection.  Former cabinet minister of Haryana Mrs Kavita Jain was the chief guest. She narrated her own experience how great love and regard she has for God Shiva since her childhood.  She used to go to shivalaya to pay her regard to God Shiva though she did not know much of Shiva- the Jyotirlinga.. It is my great fortune that ever since I came close to Brahma Kumaris that I got the real knowledge about God Shiva. Shiv Baba flag was hoisted thereafter and all took pledge to make society divine by inculcating values  in one’s own life.
 
 
Caption of photos: 
 
1. BK Amir Chand and Mrs Kavita Jain with senior sisters of Punjab Zone.
2. Mrs Kavita Jain Speaking
3. Flag Hoisting
4. Candle lighting

Sonipat ( Haryana ) : Training Program on Sustainable Yogic Farming

Training program on Sustainable Yogic Farming at Vishwa Kalyan Sarovar. It was inaugurated by BK Amirchand, Incharge of the North Zone of Brahma Kumaris and Vice Chairperson of the Social Service Wing of RERF, BK Vijay, BK Vijaya, BK Balaso Rugge, BK Pramod, BK Chandresh and BK Sunita.

About 500 farmers participated in this event and 18 of them pledged to develop models.

Sonipat – विश्व कल्याण सरोवर में महा शिवरात्रि के उपलक्ष में एक विशाल कार्यक्रम का आयोजन

विश्व कल्याण सरोवर सोनीपत में महा शिवरात्रि के उपलक्ष में एक विशाल  कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

मुख्य अतिथि बहन कविता जैन मंत्री महिला व बाल कल्याण विकास हरियाणा सरकार ने अपने उदबोधन में कहा कि ब्रह्मा कुमारी संस्था समाज में हो रहे नैतिक मूल्यों के पतन  को रोकने की दिशा में बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य कर रही है।

शिव ध्वजारोहण के पश्चात कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विश्व विख्यात वक्ता शिवानी बहन ने कहा कि आज हमें अपनी आदतों को बदलने के साथ जीवन जीने की कला सीखनी होगी। अपने छोटे-छोटे उदाहरणो से उन्होने बताया कि कैसे राजयोग के प्रयोग से अपनी नकारात्मकता को अपने जीवन से दूर करें और समाज के साथ-साथ अपने परिवार में खुशी बांटते हुए सुखी रहें।

दिल्ली पांडव भवन से पधारीं बी के पुष्पा दीदी जी ने आशीर्वचन दिया । कार्यक्रम  में  शहर के सभी वर्गों के लगभग 4000  लोगों ने भाग लिया। जिसमें यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर, मोती लाल नेहरू स्पोर्ट्स स्कूल राई के डायरेक्टर प्रिंसिपल, नगर पालीका के चेयरमैन, डॉक्टर्स, यूनिवर्सिटी प्रोफ़ेसर्स, एडवोकेट्स, टीचर्स, डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेटिव आदि शामिल हुए।

कार्यक्रम का शुभारम्भ ईश्वरीय याद के गीत से किया गया।  तदुपरान्त कार्यक्रम में पधारे अतिथियों का स्वागत पुष्प गुच्छ से किया गया।बी  के  सतीश भाई ने स्वागत उदबोदन दिया,  स्वागत गीत और नृत्य के पश्चात दीप प्रज्वलन की रस्म अदा की गई।

कार्यक्रम का सफल संचालन बी के राकेश भाई जी ने किया तथा करनाल से पधारे बी के विजय भाई ने अपने गीतों से सभा को झूमने पर मजबूर कर दिया।

Rajyoga Shivir

संसार का हर मनुष्य सुख–शांति की तलाश में रोज मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारे में गुहार लगा रहा है। पूजा, पाठ, आरती, व्रत, उपवास, तीर्थ आदि धक्के खा खाकर इंसान थक गया है लेकिन सुख शांति आज भी कोसों दूर है.. बल्कि दुख, अशांति बढ़ती जा रही है, इसका एकमात्र कारण है देह अभिमान में वृद्धि होना और इन सब समस्याओं का एकमात्र निवारण और सुख, शान्ति का एकमात्र रास्ता स्व आत्मा का ज्ञान और परमात्मा की सही पहचान । इसी सत्य ईश्वरीय ज्ञान से और ईश्वर प्रदत्त राजयोग मेडिटेशन से सच्ची सुख, शान्ति का खजाना सहज ही मिल जाता है और सारा जीवन तनाव मुक्त होकर खुशहाल हो जाता है।”

जिसमें प्रात: 10 से 12 एवं संध्या 5 से8 बजे तक राजयोग मेडिटेशन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा